Dimag Tej Karne Ke Upay, Dimag Tej Karne Ke Tarike

नमस्कार हाज़िर है हम एक बार फिर से एक नए सवाल का जवाब लेकर, Dimag Tej Kaise Kare जी हाँ Dimag Tej Karne Ke Upay आज हम लेकर आये हैं. जानेंगे की कौन कौन से वो Dimag Tej Karne Ke Tarike/Tarika है जिनसे हम अपने दिमाग को तेज और फुर्तीला बना सकते हैं. आज की पोस्ट में हम जानेंगे की Dimag Tej Karne Ke Liye Kya Kare.

Dimag Tej Karne Ke Upay

दिमाग हमारे शरीर का बहुत ही अहम हिस्सा होता है. दिमाग के बिना हम कुछ भी नहीं हैं, हमें अपने सारे फैसले दिमाग से ही लेने होते हैं. दिमाग कमजोर होने की स्थिति में ना तो हम कुछ याद रख पाते हैं और ना ही सही फैसले ले पाते हैं. इसलिए Dimag Tej Karne Ke Upay या Dimag Tej Karne Ke Tarike जानना जरूरी हो जाता है. हर आदमी का दिमाग अलग होता है.

किसी का दिमाग तेज होता है और किसी का दिमाग कमजोर. कमजोर दिमाग वालों की याददाश्त बहुत कमजोर होती है, उन्हें कुछ याद करने में भी परेशानी होती है और याद रखने में भी. अगर ऐसा किसी स्टूडेंट के साथ है तो उसके लिए ज़िन्दगी में आगे बढ़ना बहुत ही कठिन हो जाता है. वो पढाई में हमेशा कमजोर ही रहता है और हमेशा यही सोचता रहता है की Dimag Tej Kaise Kare.

Dimag Tej Karne Ke Upay, Dimag Tej Karne Ke Tarike

बात करें आज की life की तो दिमाग ही सब कुछ हो गया है. काम भी ऐसे हो गये हैं जिनमे शरीर की ताकत नहीं, बल्कि दिमाग की ताकत चाहिए होती है. पहले बात कुछ और थी, लोग शारीरिक मेहनत करके अपनी ज़िन्दगी गुजार दिया करते थे, उन्हें ज्यादा दिमाग की जरुरत नहीं पड़ती थी. लेकिन अब समय बदल गया है, सब कुछ अब दिमाग के अधीन हो गया है.

काम भी ऐसे हो गए हैं की हर काम में बस तेज दिमाग की ही जरूरत होती है, शारीरिक बल की नहीं. ऐसे में Dimag Tej Karne Ke Upay लोग ढूढ़ते रहते हैं, उनको बस यही रहता है की कोई ऐसा Dimag Tej Karne Ka Tarika हाथ लग जाये जिससे उनका भी दिमाग तेज हो जाये और वो भी समय के साथ चल सकें. ये तो तय है की जिनका दिमाग कमजोर होगा वो समय की रफ़्तार के सामने घुटने टेक देंगे.

ज़माने के साथ चलने के लिए आपका दिमागी रूप से तेज होने की जरुरत है, तभी आप इस ज़िन्दगी रुपी मैदान में टिक पाएंगे. तो अब सवाल ये आता है की Dimag Tej Karne Ke Liye Kya Kare या फिर Dimag Tej Karne Ke Liye Kya Khaye जो हमारे दिमाग को तेज कर सके, हमारी बुद्धि बढ़ाने में हमारी मदद करे. चलिए जानने की कोशिश करते हैं Dimag Tej Karne Ke Upay क्या हैं.

हमारी ये पोस्ट सिर्फ बड़ों के लिए नहीं है. जो स्टूडेंट्स हैं जिनकि मेमोरी कमजोर हैं, और हमेशा सोचते रहते हैं की Dimag Tej Kaise Kare, वो भी इस पोस्ट को अंत तक पढ़ें और जितने भी Dimag Tej Karne Ke Nuskhe यहाँ बताये जा रहे हैं उनको follow करे. हमें विश्वास है कुछ समय पश्चात् आप निश्चित ही इस चीज़ में बहुत फर्क महसूस करेंगे.

Dimag Tej Kaise Kare, Dimag Tej Karne Ke Upay

(1) अपनी नींद की क्वालिटी को सुधारें, आपको लग रहा होगा की ये हम क्या नार्मल बातें आपको बता रहे हैं, लेकिन यकीन मानिए आपके दिमाग के तेज होने की आपकी शुरुआत यहीं से होगी. वास्तव में होता क्या है की अगर हमारी नींद में रोज रोज लगातार बाधा उत्पन्न हो रही है या हम ठीक से सो नहीं पा रहे हैं तो इससे हमारा दिमाग लगातार कमजोर होता जाता है.

Dimag Tej Kaise Kare

इसका कारण ये है की बिना बढ़िया नींद के हमारे दिमाग को आराम नहीं मिल पाता है, और आप खुद सोच सकते हैं की जो चीज़ बिना आराम किये लगातार काम करेगी वो कमजोर तो होगी ही. चाहे वो हमारा शरीर हो या फिर दिमाग. इसलिए Dimag Tej Karne Ke Upay अगर आप ढूंढ रहे हैं तो सबसे पहले अपनी नींद को सुधारें, अच्छी और पूरी नींद लें.

(2) अच्छा भोजन यानी अच्छा शरीर और अच्छा दिमाग. ये बात बिलकुल 100% सत्य है. वो कहते हैं ना की जैसा हम खायेंगे, वैसे ही बन जायेंगे. भोजन का असर सिर्फ हमारे शरीर पर ही नहीं बल्कि दिमाग पर भी होता है. हमारा दिमाग भी हमारे द्वारा खाए गए भोजन से ही पौष्टिक तत्व ग्रहण करता है. ऐसा सोचने की गलती ना करें की अच्छे भोजन की जरुरत सिर्फ शरीर को है.

आप जितना साफ़ सुथरा और पौष्टिक खाना खायेंगे, आपके दिमाग के लिए उतना ही बढ़िया होगा. हर बार खाने के द्वारा बने हुए पौषक तत्व जब दिमाग तक पहुँचते हैं तो वो  दिमाग का पोषण करते हैं, इससे दिमाग मज़बूत और स्वस्थ बनता है. जब दिमाग स्वस्थ रहेगा तभी तो वो तेज होगा. ये साधारण से Dimag Tej Karne Ke Tarike लगते हैं पर 100% प्रभावी हैं.

(3) आप स्टूडेंट हैं या फिर बड़े हैं इससे कोई फर्क नहीं पड़ता, अगर आप किसी भी प्रकार नशा करते हैं तो आपका दिमाग दिनों-दिन कमजोर ही होता जायेगा. आपकी याद्दाश्त बिलकुल कमजोर हो जाएगी. नशा चाहे किसी भी प्रकार का हो वो हमारी चैतन्य शक्ति को शून्य करने का काम करता है. हम आपको बताते हैं की कैसे नशा आपके दिमाग के साथ खिलवाड़ करता है.

होता क्या है की किसी भी प्रकार का नशा हमारे रक्त परिसंचरण तत्र को प्रभावित करता है. इससे हमारे दिमाग में खून की सप्लाई बाधित होती है, या यूँ कहलें की दिमाग में बहुत ही कम मात्रा में खून पहुच पाता है. ये तो आपको पता ही हैं दिमाग का मुख्य ईंधन खून ही होता है, वो इसके बिना नहीं चल सकता. इसीलिए नशा करने से दिमाग बहुत ही कमजोर स्थिति में पहुँच जाता है.

तो अगर आप Dimag Tej Karne Ke Tarike ढूंढ रहे हैं तो सबसे पहले नशे से तौबा करें. इसके साथ साथ आपको कैफीन और निकोटीन से भी दूरी बनानी है ताकि कभी भी दिमाग के पास खून पहुँचने में कोई दिक्कत ना हो. जब दिमाग को लगातार अच्छा पोषण और अच्छा ईंधन मिलता रहेगा तो वो कुछ दिन में अपने आप मजबूत होकर उभरेगा.

Dimag Tej Karne Ke Tarike/Nuskhe अभी जारी है

Dimag Tej Karne Ke Tarike

(4) अगर आप हर काम को बस ये कह के छोड़ देंगे की इसमें कौन अपना दिमाग खपायेगा, तो आप अपने दिमाग को कमजोर करने वाली राह पर हैं. क्योंकि हमारे शरीर का चाहे कोई भी हिस्सा हो, अगर आप उससे बहुत दिन तक कुछ काम ही नहीं लेंगे तो वो बिलकुल कमजोर ही होता जायेगा. ऐसा ही दिमाग के साथ भी है अगर आप हमेशा उसका इस्तेमाल करने से बचेंगे तो वो और कमजोर होता जायेगा.

इसलिए समय समय पर ऐसी एक्टिविटीज में ध्यान दें जिनमे दिमाग लगाने की जरूरत हो. जैसे पहेलियाँ, सवाल, चैस, ब्रेन गेम्स और भी बहुत सी चीज़ें हैं जिनमे हमारे दिमाग को मेहनत करनी पड़े. दिमाग को तेज रखने के लिए दिमाग की कसरत करवाना जरुरी है. ये ऐसे Dimag Tej Karne Ke Upay हैं जिन पर हम ध्यान नहीं देते. इसीलिए दिमाग कमजोर होता जाता है.

(5) कुछ ऐसे Dimag Tej Karne Wale Foods हैं जिनको हम अपनी डाइट में शामिल करके अपना दिमाग तेज कर सकते हैं. जैसे बादाम, हरी सब्जियां, ब्रोकोल्ली, दालें और मछली वगैरह. इनमे दिमाग के लिए जरुरी पौषक तत्व काफी अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं. रोज इनमे से कोई न कोई चीज़ आप थोड़ी थोड़ी मात्रा में खाते रहें इससे आपके दिमाग को मजबूती मिलेगी.

इम्युनिटी कैसे बढ़ाएं, इम्युनिटी क्या है

खाना खाने का तरीका, खाना खाने का सही तरीका

प्रोटीन के फायदे और नुकसान जानिये

दूध पीने का सबसे सही समय कौनसा होता है

जो लोग ये पूछते हैं की Dimag Tej Karne Ke Liye Kya Khaye उनके लिए ऊपर बताई गयी चीज़ें बहुत ही अच्छा ऑप्शन हैं. कोई भी ऑर्गन हो, जब तक उसको अच्छा पोषण मिलेगा, तब तक वो मज़बूत रहेगा और अपना काम ठीक से करेगा. यही हमारे शरीर का नियम है.

(6) ध्यान और योग सबसे बेस्ट Dimag Tej Karne Ke Upay हैं. असल में आज लोगों लोगों के दिमाग में इतनी हलचल मची रहती है की दिमाग कभी भी शांत नहीं रह पा रहा है. लोग हर समय किसी ना किसी चिंता या फ़िक्र में डूबे रहते हैं. ये दिमाग के कमजोर होने का सबसे बड़ा कारण बन गया है. इसमें ध्यान और योग हमारी मदद कर सकते हैं.

सुबह के टाइम कुछ समय अपने दिमाग के लिए निकालिए और किसी शांत जगह पर जाकर ध्यान लगाने की कोशिश कीजिये. शुरू शुरू में ध्यान लगाना कठिन होता है लेकिन धीरे धीरे आपका समय बढ़ता जायेगा और आपका दिमाग भी तेज होता चला जायेगा. जिस असीम शान्ति की दिमाग को जरुरत है, आप उसे वो रोज कुछ देर के लिए जरूर प्रदान करें.

(7) दिमाग तेज करने में आयुर्वेद भी आपकी मदद कर सकता है. आयुर्वेद में बताया गया है की Dimag Tej Kaise Kare और Dimag Tej Karne Ke Tarike क्या हैं. इसमें कुछ आयुर्वेदिक औषधियां बताई गयी हैं जो आपका दिमाग तेज करने का काम करती है जैसे ब्राह्मी वटी, शंखपुष्पी और मेधा वटी. ये औषधियां बहुत ही अच्छी ब्रेन टॉनिक हैं जो दिमाग को रिलैक्स करती हैं.

अगर आप ऊपर बताये गए Dimag Tej Karne Ke Upay अपनाने के साथ साथ इन आयुर्वेदिक औषधियों का भी सेवन करेंगे तो निश्चित ही आपको बहुत जल्दी बहुत अच्छा रिजल्ट देखने को मिलेगा.

(8) दिमाग तेज करने के लिए आप हल्दी और शहद का का उपयोग करें. ये दोनों अपने आप में बहुत ही अच्छे ब्रेन टॉनिक हैं. हल्दी में एक बहुत ही ख़ास रसायन होता है जिसका नाम है कुर्कुमिन. ये रसायन आपके दिमाग के लिए अत्यंत ख़ास होता है जो आपकी याददाश्त बढाता है. इसके अलावा शहद में भी बहुत से ऐसे गुण पाए जाते हैं जो दिमाग को पुष्ट बनाने का कार्य करते हैं.

शहद का इस्तेमाल आप दूध में मिलाकर कर सकते हैं. बच्चों के लिए तो ये सर्वोत्तम टॉनिक है. बाज़ार से कोई घटिया क्वालिटी का ब्रेन टॉनिक खरीदने की बजाये आप ये घरेलू Dimag Tej Karne Ke Nuskhe अपनाएं, इनसे आपको जरूर फायदा होगा.

(9) दिमाग तेज करने के लिए तुलसी का प्रयोग करें. तुलसी को एक बहुत ही पवित्र पौधा माना जाता है, हमारे देश में तो इसकी पूजा भी की जाती है. तुलसी के बारे में कहा जाता है की इसमें ऐसे ऐसे गुण होते हैं जो किसी महँगी से महंगी दवाई में भी नहीं होते. तुलसी एंटी-ओक्सिदेंट्स का काम करती है और दिमाग में रक्त का प्रवाह तेज बनाये रखने में सहायता करती है.

(10) Dimag Tej Karne Ke Upay में आखिर में हमारा ये कहना है की आप अपने शरीर में विटामिन्स और मिनरल्स की कमी ना होने दें. दिमाग के पोषण के लिए विटामिन्स और मिनरल्स सबसे जरुरी होते हैं. ऐसी चीज़ें खाएं जिनसे अच्छे विटामिन्स और मिनरल्स आपको मिलें. जैसे फल-सब्जियां वगैरह.

तो दोस्तों ये थी हमारी पोस्ट Dimag Tej Karne Ke Upay, Dimag Tej Karne Ke Tarike. आशा करते हैं की आपको समझ आ गया होगा की अपना Dimag Tej Kaise Kare. पोस्ट आपको कैसी लगी comment करके जरूर बताएं. पोस्ट को Like और Share करना ना भूलें. धन्यवाद.

Leave a Reply