तम्बाकू, जर्दा और गुटखा खाने के नुकसान – Tobacco Side Effects

तम्बाकू का सेवन किसी भी रूप में करना खतरे से खाली नहीं होता. चाहे वो गुटखा हो जर्दा हो या फिर पान. तम्बाकू के नुकसान आपकी सेहत, आपके शरीर को ना सिर्फ बाहर से बल्कि अन्दर से भी जर्जर बना देते हैं. आज हम आपको गुटखा खाने के नुकसान बताने वाले हैं, क्योंकि हमारे देश की आबादी का एक बड़ा हिस्सा इस खतरनाक आदत की चपेट में है.

किसी भी देश का भविष्य उसके युवाओं पर निर्भर करता है और हमारे देश में युवा गलत संगत में पड़कर या फिर शौक शौक में गुटखा खाने की खतरनाक आदत के चंगुल में फंसता जा रहा है. हमारे देश का एक बड़ा हिस्सा तो ऐसा है जहाँ तम्बाकू और गुटखे का बेतहासा उपयोग किया जाता है भले ही आप उन्हें कितने ही गुटखा खाने के साइड इफेक्ट्स बता दें.

उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्य प्रदेश और छत्तीश्गढ़ कुछ ऐसी जगह हैं जहाँ के लोग गुटखे का लिमिट से भी ज्यादा प्रयोग करते हैं. हमारे देश में तम्बाकू निषेध दिवस मनाया जाता है लेकिन वो सिर्फ एक दिखावा है. तम्बाकू, ज़र्दा और गुटखे का सेवन करने वाले लोग धडल्ले से इनका इस्तेमाल करते हैं. एक बार इसकी आदत लग जाने पर इसे छोड़ना बहुत मुश्किल हो जाता है.

गुटखे के नुकसान Gutkha and Tobacco Side Effects In Hindi

इस पोस्ट में गुटखे के नुक्सान या गुटखा खाने के नुकसान बताने का हमारा मकसद भी यही है. जैसा की हमने बताया की इसे छोड़ना मुश्किल है, तो हम लोगों को इसके साइड इफेक्ट्स से अवगत करना चाहते हैं ताकि जो युवा अभी गुटखा नहीं खाते, वो इसे खाने के बारे में कभी सोचें भी ना. और जो लोग अभी गुटखा खा रहे हैं वो इसे छोड़ने के लिए प्रेरित हों.

गुटखा खाने के नुकसान स्वास्थ्य के लिए बहुत खतरनाक होते हैं

ऐसा नहीं है की लोग इसे छोड़ना ही नही चाहते, कुछ समय बाद गुटखा कई लोगों के लिए गले की फांस बन जाता है. उन्हें तरह तरह की परेशानियां होने लगती है, उस समय आदमी इसे छोड़ने के बारे में विचार जरूर करता है. चलिए आपको बताते हैं Side Effects Of Gutkha and Tobacco In Hindi जो आपकी स्वास्थ्य को बुरी तरह से प्रभावित करते हैं.

तम्बाकू के नुकसान, गुटखा खाने के नुकसान

(1) सड़े गले दांत– गुटखा खाने वाले लोगों के दांत आपने देखे ही होंगे. पूरी पर्सनालिटी को खराब करके रख देते हैं इनके दांत. गुटखे का कुछ समय तक लगातार सेवन करने से दांत बिलकुल पीले, काले और लाल हो जाते हैं जो बहुत ही भद्दे लगते हैं. ये गुटखा खाने का नुकसान आदमी का पूरा लुक ही खराब कर देता है. धीरे धीरे दांत गलने लग जाते हैं.

दांतों के जोड़ों के बीच में तो सख्त मसाला होता है वो गुटखा खाने की वजह से गलकर बाहर निकल जाता है. इससे दाँतों के बीच में जगह बन जाती है जिसमें सड़ा गला खाना या अन्य चीज़ें फंस जाती है. इस कारण दाँतों में बेक्टेरिया पनपने लगते हैं जो विभिन्न बिमारियों का कारण बनते हैं.

(2) DNA पर गलत प्रभाव– आनुवान्शिता के बारे में तो आपने सुना ही होगा, यानी आपको होने वाली बीमारियाँ आपकी आने वाली पीढ़ियों पर भी असर डालने लगती हैं. लगातार लम्बे समय तक तम्बाकू या गुटखे का इस्तेमाल आपके DNA पर बहुत ही बुरा असर डालता है. इससे आप समझ जाइए की तम्बाकू के नुकसान सिर्फ आपको ही नहीं बल्कि आपके बच्चों को भी प्रभावित करेंगे.

(3) बदहाल मसूड़े– जो लोग गुटखा खाते हैं उनके मसूड़ों को बहुत ही तकलीफ से गुजरना पड़ता है. एक तो गुटखा खाने पर मसूड़े इधर उधर से कट जाते हैं, दूसरा जब कटी हुयी जगह पर तम्बाकू के संपर्क में आती है तो बहुत ही ज्यादा नुक्सान होने की संभावना हो जाती है. मसूड़ों में घाव हो जाते हैं और खून भी निकलने लगता है. घाव के कारण बेक्टेरिया जन्म ले लेते हैं जिससे मुहं से दुर्गन्ध आना शुरू हो जाती है.

(4) एंजाइमस पर बुरा असर– हमारे शरीर में बनने वाले एंजाइम हमारे लिए बहुत जरूरी होते हैं. ये हमारे शरीर के अन्दर चलने वाली क्रियाओं को आसान बनाने का काम करते हैं. लेकिन जो लोग तम्बाकू या गुटखे का सेवन करते हैं उनमें इन एंजाइम का उत्पादन कम हो जाता है. इससे हमारे शरीर में बनने वाले जरूरी हारमोंस भी बनना कम हो जाते हैं जो हमारी सेहत के लिए ठीक नहीं.

(5) नींद पर बुरा असर– तम्बाकू या गुटखा खाने के नुकसान आपका सुख चैन चीन लेते है, क्योंकि ये आपकी नींद को ही खराब कर देते हैं. ज्यादा मात्रा में और लम्बे समय तक गुटखे के प्रयोग से आपको नींद ना आने की बीमारी लग सकती है. इस चीज़ का हमारे स्वास्थ्य पर क्या असर पड़ सकता है आप खुद अंदाजा लगा सकते हैं. अच्छी नींद नहीं तो अच्छा दिन नहीं.

(6) कैंसर का प्रमुख कारण– तम्बाकू या गुटखा खाने वाले व्यक्ति में मुहं, गले या फिर फेफड़ों का कैंसर होने की प्रबल संभावना रहती है. अगर आप भी गुटखा खाते हैं तो आपने देखा होगा की कभी कभी मुहं में सफ़ेद सफ़ेद छोटे छोटे घाव से दिखाई देते हैं. ये सफ़ेद पॉइंट्स होने पर भी लगातार गुटखे का सेवन करने से कैंसर cells पनपना शुरू कर देती हैं.

ये कैंसर मुहं में फैलता फैलता इतना फ़ैल जाता है की आपका मुहं सही से खुलना भी बंद हो जाता है. हमने कई ऐसे केस सुने हैं जिनमें गुटखा खाने वाले व्यक्ति को कैंसर हुआ और मुहं नहीं खुलने के कारण उनके एक साइड का जबड़ा काटना पड़ा. इस भयानक स्थिति से बचना चाहते हैं तो आज से गुटखा छोड़ने की कोशिश शुरू कर दीजिये.

(7) दिल की बीमारियाँ– गुटखे और तम्बाकू के नुकसान आपके दिल को बहुत ही कमजोर बनाने का काम करते हैं. आप में से जो लोग 4-5 साल से गुटखे का सेवन कर रहे हैं उन्हें ये जरूर महसूस होता होगा की उनका दिल पहले से काफी कमजोर हो गया है. गुटखा दिल पर बहुत ही बुरा असर डालता है, दिल कमजोर हो जाने के कारण कई तरह की हार्ट से सम्बंधित बीमारियाँ आपको हो सकती हैं.

(8) नपुंसकता– ये एक बहुत ही बड़ा गुटखा खाने का नुकसान है जो किसी भी व्यक्ति को डिप्रेशन के द्वार पर पहुंचा देता है. ये बिलकुल सच है की लिमिट से ज्यादा और लम्बे समय तक तम्बाकू या गुटखे का सेवन आपको नपुंसक बना सकता है. अगर पूरी तरह से नपुंसक नहीं तो आपकी पौरुष शक्ति बहुत कम जरूर हो जायेगी. ये प्रजनन क्षमता पर बहुत बुरा असर डालते हैं.

(9) पेट में घाव– जब कोई भी व्यक्ति गुटखे को बिलकुल नार्मल चीज़ समझकर खाने लगता है तो उसे इसके कई दुष्परिणाम भुगतने पड़ते हैं. लगातार गुटखे का सेवन करने से आपके पेट में घाव भी हो सकते हैं जो की कोई छोटी समस्या नहीं है. इससे आपके पेट में भयंकर जलन या दर्द हो सकता है. इसके लिए आपको सर्जरी यानी ऑपरेशन तक भी करवाना पड़ सकता है.

(10) हाई ब्लड प्रेशर– इन नशीले पदार्थों के सेवन से आपको हाई ब्लड प्रेशर की भी दिक्कत हो सकती है. अगर पहले से ही आपका ब्लड प्रेशर नार्मल से कुछ ज्यादा रहता है तो आपको इनका सेवन नहीं करना चाहिए. क्योंकि इनके इस्तेमाल से आपका ब्लड प्रेशर और ज्यादा बढेगा जो आपके हार्ट के लिए बिलकुल भी अच्छा नहीं है.

(11) खाना खाने में परेशानी– गुटखे के नुक्सान कुछ ऐसे भी हैं जो हमारा स्वाद बिगाड़कर रख देते हैं. जी हाँ गुटखा खाने वाले व्यक्ति को खाना खाने में कभी भी वो मज़ा नहीं आ सकता जो एक नार्मल आदमी को आता है. गुटखा खाने वाले व्यक्ति के अंदरूनी गालों की ऊपरी परत जल जाती है ऐसे में थोड़ी सी मिर्ची भी उन्हें बहुत तेज लगती है और वो ढंग से खाना नहीं खा पाते हैं.

इसके अलावा गुटखा जीभ को भी प्रभावित करता है. जिससे उसका taste बदल सकता है. समझे आप? मतलब वो जो कुछ भी खाता है उसे वो उतना स्वादिस्ट नहीं लगता जितना असल में वो होता है.

(12) पथरी– गुटखा खाने वाले लोगों में पथरी होने की संभावना भी ज्यादा होती है. खुद गुटखा पथरी बनाने का काम करता है. होता क्या है की जब भी कोई व्यक्ति गुटखा खाता है तो हर बार थोडा सा गुटखा किसी ना किसी बहाने अन्दर चला ही जाता है. इस तरह समय के साथ साथ उसके शरीर में बहुत ज्यादा गुटखा इकठ्ठा हो जाता है जो सख्त होता जाता है.

इन्हें भी जरूर पढ़ें-

आपको हमारी पोस्ट गुटखा खाने के नुकसान Gutkha Tobacco Side Effects In Hindi कैसी लगी हमें comment करके जरूर बताएं. जितना जल्दी हो सके गुटखा खाना छोड़ दें. हमारे साथ जुड़ने के लिए हमारे फेसबुक पेज को Like करलें और हमें सब्सक्राइब करलें. पोस्ट को Like और Share करना बिलकुल मत भूलियेगा. धन्यवाद.

2 Comments

  1. jayant dhalwal September 26, 2019
    • Tinku Sharma September 26, 2019

Leave a Reply