मोटापे से होने वाले रोग व बीमारियाँ

मोटापे से होने वाले रोग व बीमारियाँ | Health Side Effects Of Obesity

मोटापा एक अभिशाप है, ये बात आप सबने सुन रखी होगी. लेकिन शायद आप मोटापे से होने वाले रोग व बीमीरियाँ नहीं जानते होंगे. Health Side Effects Of Obesity In Hindi पोस्ट में आप जानेंगे ज्यादा मोटा होने के क्या क्या नुकसान हो सकते हैं. किस तरह से मोटापा आपकी सेहत यानी स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करता है.

बहुत से लोग हैं दुनिया में जिन्होंने लाख जतन कर लिए लेकिन मोटे नहीं हो पाए. उन्हें मोटा होने का शौक है, लेकिन मोटापा है की उनसे नफरत करता है और उनके नज़दीक फटकता भी नहीं है. वही दुनिया में अब एक बहुत बड़ी तादाद ऐसे लोगों की भी है जो बेचारे अपने बढे हुए वजन यानी मोटापे से इतना परेशान हैं की हर समय बेचैन रहते हैं.

क्योंकि जब तक शरीर के अंदर क्रियाशील ओर्गंस से वो सहन हुआ, तब तक उन्होंने किया. लेकिन जब चर्बी बहुत ही ज्यादा हो गयी तो उन्होंने हाथ खड़े करना शुरू कर दिया. मोटापा ना सिर्फ आपका लुक पूरी तरह से बिगाड़ कर रख देता है, बल्कि मोटापे के नुकसान इतने हैं की आपको चैन से जीने नहीं देते.

Obesity Side Effects In Hindi – मोटापे के नुकसान, कारण और बचाव

मोटापे के कारण होने वाली बीमारी कोई एक नहीं है, बल्कि इनकी फेहरिश्त लम्बी है. अगर मोटापे की शुरुआत से कोई सतर्क हो जाता है तो इसे काबू में करना आसान हो जाता है. लेकिन जब कोई व्यक्ति लम्बे समय तक लापरवाह रहता है तो वो उस स्थिति में पहुँच जाता है जहाँ से लौटना बहुत ही मुश्किल होता है.

उसके बाद शुरू हो जाता है व्यक्ति का बुरा वक़्त. क्योंकि मोटापा अपने आप में बिमारियों और समस्याओं का एक स्टेशन है. जहाँ कभी कोई बीमारी तो कभी कोई आती जाती रहती हैं. और कुछ बीमारियाँ तो ऐसी होती हैं जिनके एक बार आने के बाद उन्हें वहां से खदेड़ना बहुत ही मुश्किल हो जाता है.

समय रहते मोटापे से बचाव संभव है. एक्सरसाइज, खान पान में परिवर्तन और अपनी कुछ आदतें सुधारकर इससे बचा जा सकता है. अगर आपकी भी अभी शुरुआत है तो हमारी सलाह आपको यही है आज से ही अपने खाने पीने और एक्सरसाइज पर ध्यान दें. अन्यथा एक बार लिमिट क्रॉस कर गए तो परेशानी हो जाती है.

मोटापे से होने वाले रोग व बीमारियाँ

वैसे मोटापा बढ़ने के कारण बहुत से होते हैं, लेकिन सबसे बड़ा कारण होता है शारीरिक गतिविधियों की कमी. जो व्यक्ति पूरे दिन अपने शरीर से कोई भी मेहनत का काम नहीं करवाते, उनमें दिन ब दिन मोटापा बढ़ता जाता है. चलिए जानते हैं किन किन कारणों से आपका मोटापा बढ़ता है, यानी Causes Of Obesity In Hindi.

  • अगर आप पूरे दिन में बिलकुल भी शारीरिक मेहनत का कोई काम नहीं करते तो मोटापा बढ़ता है.
  • अगर किसी व्यक्ति का मेटाबोलिज्म रेट स्लो हैं तो मोटापा बढ़ता है.
  • हर वक़्त जरूरत से ज्यादा खाने से मोटापा बढ़ता है.
  • मोटापा बढ़ने का बड़ा कारण है लम्बे समय तक दवाओं का सेवन करना.
  • खाना खाते ही सोने की आदत से मोटापा बढ़ता है.
  • ज्यादा तेल वाली चीज़ें, ज्यादा मीठी चीज़ें और जंक फूड्स खाने से चर्बी बढती है.
  • अगर किसी भी वजह से आपकी नींद पूरी नहीं हो पा रही है तो आपका मोटापा बढेगा.
  • मोटापा जेनेटिक्स पर भी निभर करता है, जिसके कारण मोटापा बढ़ सकता है.

ये थे ज्यादा चर्बी बढ़ने यानी मोटापे के कुछ प्रमुख कारण. लेकिन कई बार मोटापा किसी स्पेशल बीमारी की वजह से भी हो सकता है. ऐसे में एक बार डॉक्टर से चेक अप करवाना जरूरी होता है. खैर अब आते हैं मुद्दे पर और जानते हैं मोटापे के कारण होने वाली बीमारियाँ कौन कौन सी हैं. कौन कौन से रोग आपको जकड सकते हैं.

Diseases And Health Side Effects Of Obesity In Hindi – मोटापे से होने वाले रोग

(1) मधुमेह – अगर आपका वजन यानी मोटापा बहुत ज्यादा बढ़ गया है तो बहुत ज्यादा चांस हैं की आपको टाइप 2 डायबिटीज का रोग लग जाए. आप ने शायद ध्यान नहीं दिया होगा डायबिटीज वाले मरीजों में से ज्यादातर का वजन सामान्य से ज्यादा पाया जाता है.

अगर आपको मधुमेह रोग है तो एक्सरसाइज का सहारा लें और अपने खाने पीने पर control करें. ऐसा करने से आपके ब्लड शूगर लेवल भी नियंत्रण में आएगा. अगर आपको डायबिटीज नहीं है लेकिन आप बहुत मोटे हो, तो भी आज से ये सब करना शुरू करें. क्योंकि Obesity यानी ज्यादा मोटापे के कारण ये रोग आपको कभी भी हो सकता है.

(2) जोड़ों का दर्द – मोटापे से होने वाली बीमारियाँ आपको अंदरूनी दर्द भी देती हैं. जी हाँ भारी शरीर और अन्दर जमी बहुत अधिक चर्बी आपके शरीर के अन्दर जोड़ों पर बहुत ज्यादा दबाव डालती है. आपने देखा होगा की ज्यादा मोटे लोगों को अक्सर कमर और घुटनों में दर्द रहता है.

ये तभी होता है जब शरीर में ज़मी अतिरिक्त चर्बी हमारे घुटनों और कमर पर दबाव डालती है. ये दबाव हमारे जोड़ों के आस पास की cells को डैमेज कर देता हैं. इन cell का मुख्य काम होता है जोड़ों को Protect करना. जो की ये डैमेज होने के बाद नहीं कर पाती. उम्र बढ़ने के साथ साथ तकलीफ और भी ज्यादा बढती जाती है.

(3) यादाश्त होती है कमजोर – Obesity Ke Side Effects में एक ये भी है की ये हमारी यादाश्त को कमजोर करता है. अगर आप स्टूडेंट हैं और बहुत ही मोटे हैं तो आपके लिए परेशानी और ज्यादा बढ़ जाती है.

अगर आप सोच रहे हैं की मोटापे का दिमाग से क्या लेना देना है तो आप इस पर रिसर्च कर सकते हैं. ये बात बिलकुल 100% सत्य है की मोटापा सिर्फ शरीर पर ही चर्बी नहीं चढ़ाता बल्कि दिमाग पर भी चढ़ा देता है. दिमाग को तेज रखना चाहते हैं तो मोटापे को कम करने की कोशिश शुरू कीजिये.

(4) दिल के गंभीर रोग – आपको शायद पता ना हो की मोटे व्यक्ति को हार्ट अटैक आने का खतरा पतले आदमी की तुलना में ज्यादा होता है. इसका कारण ये हैं की ज्यादा चर्बी जम जाने के कारण दिल के कई रोग हो जाते हैं. चर्बी जमने के कारण हमारी धमनियां बहुत ज्यादा hard हो जाती हैं.

इस बीमारी को Atherosclerosis कहते हैं. बहुत ज्यादा चर्बी हमारी रक्त वाहिनियों पर भी बुरा प्रभाव डालती हैं. जिससे खून की आपूर्ति में बाधा उत्पन्न होती है और छाती में दर्द या फिर हार्ट अटैक भी आ सकता है. दिल को स्वस्थ रखने के लिए जरूरी है की आप अपना वजन हमेशा control में रखें.

(5) स्टैमिना कम होना – मोटे लोग कोई भी मेहनत का काम करते समय बहुत ही जल्दी थक जाते हैं और हांफने लगते हैं. मोटापे से होने वाले रोग ही इसका कारण होते हैं. ज्यादा मोटापा आपका स्टैमिना बहुत ही कम कर देता है, जिससे थोडा सा hard work करते ही सांस फूलने लगती है.

क्योंकि मोटापे का प्रभाव हमारे फेफड़ों की कार्यक्षमता पर भी पड़ता है. इसलिए बहुत ही जल्दी सांस फूलने की बीमारी जन्म ले लेती है. इससे बचने के लिए आपको कम से कम हर रोज सुबह घूमना जरूर चाहिए.

(6) छोटा जीवन – हो सकता है इस बात पर बहस छिड़ जाए की मोटे व्यक्ति का जीवन सामान्य व्यक्ति की तुलना में कम होता है. लेकिन अगर रिपोर्ट्स की मानें तो ऐसा ही है. चूँकि मोटापे की वजह से कई बीमारियाँ व्यक्ति को जकड लेती हैं इसलिए उनकी औसत उम्र कम हो जाती है.

अभी हाल ही में समाचार पत्रों में एक लड़की का किस्सा सामने आया था जिसका वजन 250 किलो के आस पास था. उसकी उम्र लगभग 28-29 के आस पास रही होगी. 2-3 साल तक उसका इलाज़ चलने के बावजूद उसने दम तोड़ दिया. मतलब ये हैं की जितना ज्यादा वजन उतना ज्यादा खतरा और छोटा जीवन.

(7) हाई ब्लड प्रेशर– वजन जितना ज्यादा होगा, हाई ब्लड प्रेशर का खतरा उतना ही ज्यादा होगा. क्योंकि मोटे आदमी के शरीर में जमा फैट टिश्यूज को भी जीवित रहने के लिए nutrients और ओक्सिजन की जरूरत होती है.

इसलिए हमारे शरीर को उन उत्तकों तक भी खून पहुंचाना पड़ता है. ऐसी स्थिति बनने पर हमारे दिल पर अतिरिक्त खून सप्लाई करने का दबाव पड़ता है जिससे ब्लड प्रेशर हाई हो जाता है. इससे हमारी रक्त वाहिकाएं भी कमजोर होती चली जाती हैं.

(8) आंत का कैंसर – मोटापे यानी Obesity से होने वाली Diseases में इस बड़ी बीमारी का भी नाम आता है जिसे Colon Cancer भी कहा जाता है. ये बहुत ही बड़ा खतरा होता है क्योंकि ये कैंसर बड़ी आंत में होता है जिससे सब कुछ गड़बड़ा जाता है.

Colon Cancer होने के बाद व्यक्ति को तरह तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है. पेट से सम्बंधित बहुत सारी गड़बड़ियाँ शुरू हो जाती हैं और व्यक्ति का खाना पीना हराम हो जाता है. इससे बचने के लिए अत्यंत जरूरी है की मोटापे पर समय रहते काबू पाया जाए.

(9) मोटापे का असर यौन जीवन पर – ये बात भी पूरी तरह सच है की बहुत ज्यादा मोटे लोग इस क्रिया में अच्छा परफॉर्म नहीं कर पाते. Obesity की वजह से उनका stamina कम हो जाता है और थकान हमेशा हावी रहती है. इसलिए ऐसे व्यक्ति इन चीज़ों से दूर भागने की कोशिश करते हैं.

बहुत ज्यादा वजन पुरुषों में इरेक्टाइल डिसफंक्शन का कारण बनता है. जिससे वैवाहिक जीवन में बहुत ज्यादा परेशानियां आना शुरू हो जाती हैं. अपने यौन जीवन को बेहतर बनाने के लिए सबसे पहले आपको अपना अतिरक्त वजन कम करना होगा. आप चाहें तो इस बारे में किसी डॉक्टर से परामर्श ले सकते हैं.

(10) मोटापा यानी तनाव – हद से ज्यादा मोटापा बढ़ने के कारण होने वाली बीमारियाँ सिर्फ शारीरिक ही नहीं मानसिक भी होती हैं. बहुत ज्यादा मोटापा आपके मष्तिस्क की कार्यप्रणाली को प्रभावित करता है और आप हमेशा तनाव में रहना शुरू कर देते हैं.

एक तो इससे होने वाली Diseases, ऊपर से तनाव, आपके जीवन को बुरी तरह से प्रभावित करता है. डॉक्टर्स के अनुसार 30% से ज्यादा लोगों में तनाव बढ़ने का कारण उनका मोटापा ही होता है. हमेशा टेंशन फ्री रहना है तो चर्बी को घटायें.

(11) स्त्री रोग – मोटापे के नुकसान महिलाओं के लिए और भी ज्यादा बुरे हो सकते हैं. शरीर में ज्यादा चर्बी जमा होने के कारण उनमें ब्रैस्ट कैंसर का खतरा और ज्यादा बढ़ जाता है. चर्बी के कारण उनके स्तनों में फैट टिश्यू बन जाते हैं, जो एक गाँठ का रूप धारण कर लेते हैं.

यही फैट टिश्यूज जब लम्बे समय तक कायम रहते हैं तो कैंसर का कारण बन जाते हैं. यही नहीं ज्यादा मोटापे के कारण महिलाओं में गर्भाशय का कैंसर, कोलन कैंसर और पित्त की थैली में कैंसर होने की संभावना भी बहुत ज्यादा होती है. इसलिए महिलाओं इस और जरूर ध्यान दें.

ये भी पढ़ें-

ये थी हमारी पोस्ट मोटापे से होने वाले रोग व बीमारियाँ – Diseases And Side Effects Of Obesity In Hindi जिन्हें पढ़कर आपको मोटापा कम करने की प्रेरणा जरूरी मिली होगी. पोस्ट पसंद आई हो तो Like और Share जरूर कीजियेगा. हमारे साथ जुड़ना चाहते हैं तो हमारा फेसबुक पेज Like करलें और हमें सब्सक्राइब करलें. धन्यवाद.

2 thoughts on “मोटापे से होने वाले रोग व बीमारियाँ | Health Side Effects Of Obesity”

Leave a Comment