सोयाबीन के फायदे जबरदस्त हैं बॉडी बनाने में

Soyabean Benefits And Side Effects In Hindi- आज आपको एक ऐसी चीज़ के बारे में बताने जा रहे हैं जो की खासकर बॉडी बिल्डिंग करने वालों के लिए बहुत अहमियत रखती है. जी हाँ आज आपको बताने जा रहे हैं सोयाबीन के फायदे. सोयाबीन एक परिपूर्ण भोज्य पदार्थ है जो की पौषक तत्वों से भरपूर है. इसमें पाया जाने वाला प्रोटीन अति उत्तम क्वालिटी का होता है.

जब भी प्रोटीन का जिक्र होता है तो सोयाबीन का नाम जरूर सामने आता है. वो इसलिए क्योंकि यही वो चीज़ है जिसमें सबसे ज्यादा प्रोटीन पाया जाता है. आप यकीन नहीं करेंगे की इसमें लगभग 24% प्रोटीन पाया जाता है, जो की दूसरी चीज़ों से कहीं ज्यादा है. सोयाबीन खाने के फायदे बताने से पहले चलिए आपको बताते हैं की सोयाबीन में कौन कौन से पौषक तत्व पाए जाते हैं.

Soyabean Khane Ke Fayde सोयाबीन में पाए जाने वाले पौषक तत्व

हम यहाँ सोयाबीन के दानों की बात कर रहे हैं, जैसा की आप नीचे इमेज में देख सकते हैं. चलिए अब आपको 100 ग्राम सोयाबीन का उदाहरण लेकर समझाते हैं की 100 ग्राम सोयाबीन में क्या क्या पाया जाता है और इससे कितनी कैलोरी मिलती हैं.

प्रोटीन-           24 ग्राम

कैलोरीज-        170

शूगर-             3 ग्राम

फैट-               8 ग्राम

ओमेगा 3-       0.5 ग्राम

फाइबर-           6 ग्राम

इसके अलावा इसमें बहुत से विटामिन्स और मिनरल्स भी पाए जाते हैं. विटामिन्स में विटामिन A, C, E, K, राइबोफ्लेविन और थायमिन पाए जाते हैं जो की बहुत ही अहम् होते हैं हमारे लिए. मिनरल्स की बात की जाए तो इसमें कैल्शियम, मैग्निसियम, फोस्फोरस, आयरन, जिंक और कॉपर पाए जाते हैं. इस लिहाज से हम कह सकते हैं की ये गुणों की खान है.

सोयाबीन के फायदे

सोयाबीन का उपयोग मसल्स बनाने के लिए किया जाता है. क्योंकि इसमें पाया जाने वाला अति उत्तम सोया प्रोटीन बॉडी बनाने में हमारी सहायता करता है. इतना ज्यादा प्रोटीन इतने सस्ते में हमें कहीं और से नहीं मिल सकता. वैसे तो सोयाबीन के फायदे अनेक हैं, लेकिन हम यहाँ आपको कुछ ऐसे चुनिन्दा लाभ बताएँगे जिससे आप भी सोयाबीन खाने के बारे में सोचने लगेंगे.

सोयाबीन के फायदे Soyabean Benefits In Hindi

(1) मसल्स (बॉडी) बनाने में– बॉडी बिल्डिंग के लिए सोयाबीन एक परफेक्ट आहार है. इसमें पाया जाने वाला सोया प्रोटीन मसल्स को सुदृढ़ बनाने और नयी मसल्स का निर्माण करने का कार्य बखूबी करता है. वैसे भी सोया प्रोटीन उन्ही लोगों को लेना चाहिए जो की शारीरिक श्रम करते हैं. इसका कारण ये है की इसको पचाना थोडा कठिन होता है.

लेकिन अगर आप इतनी शारीरिक मेहनत करते हैं जो की सोया प्रोटीन को पचा सके तो समझिये की सोयाबीन खाने के फायदे आपको भरपूर मिलेंगे. इसमें जाने वाले जिंक, कॉपर और आयरन का संयोजन हमारे शरीर में टेस्टोस्टेरोन को बढाता है जो की बॉडी बनाने के लिए आवश्यक है.

(2) गर्भवती महिलाओं के लिए अति फायदेमंद– अक्सर देखा जाता है की गर्भवती महिलाओं में खून की कमी की समस्या हो जाती है. इससे माँ और शिशु दोनों की जान को खतरा बना रहता है. खून की कमी होने की स्थिति में महिलाओं को सोयाबीन खानी चाहिए. इसमें काफी अच्छी मात्रा में आयरन पाया जाता है जो खून बढ़ाने में सहायक होता है.

(3) शूगर में फायदेमंद– जिन लोगों को सुगर की समस्या से 2 चार होना पड़ा रहा है उन्हें हर रोज सुबह भिगोई हुयी सोयाबीन खानी चाहिए. सोयाबीन मूत्र सम्बन्धी विकार दूर करती है और शुगर के रोगियों के लिए बहुत ही लाभदायक है.

(4) ब्लड प्रेशर कण्ट्रोल करती है– हमारे आस पास बहुत से ऐसे लोग होते हैं जो हाई ब्लड प्रेशर से परेशान होते हैं. उन लोगों के लिए ख़ास खबर ये है की अगर आप रोज थोड़ी सी मात्रा में भी सोयाबीन खायेंगे तो सोयाबीन के फायदे आपको जरूर मिलेंगे और आपका ब्लड प्रेशर कण्ट्रोल में रहेगा. सोयाबीन में ब्लड प्रेशर को नियमित रखने के गुण पाए जाते हैं.

(5) दिल को स्वस्थ रखने में– जो लोग दिल की बामारियों से ग्रस्त होते हैं उनके खून में वसा की मात्रा बढ़ जाती है. और हमारे दिल के लिए जो लाभदायक वसा होती है जिसे HDL कहते हैं, उसकी मात्रा कम हो जाती है. इससे HDL और LDL का अनुपात बिगड़ जाता है. सोयाबीन इसका संतुलन बनाने में मदद करती है और LDL का स्तर कम करने में हमारी सहायता करती है.

LDL ऐसा कोलेस्ट्रोल होता है जिसे हम बैड कोलेस्ट्रोल कहते हैं जो हमारे दिल के स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं होता. इसके बढ़ जाने पर दिल की बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है. लेकिन सोयाबीन के गुण LDL को नियंत्रित करते हैं.

(6) मासिक धर्म के लिए– हर महिला का अपना एक मासिक चक्र होता है जिसे मासिक धर्म कहते हैं. मासिक धर्म बंद होने के बाद अचानक से महिलाओं में एस्ट्रोजन हार्मोन की कमी हो जाती है जिससे उनको कई प्रकार की समस्याएँ होती हैं. जैसे घुटनों में दर्द, कमर दर्द और हड्डियाँ कमजोर महसूस होना शुरू हो जाती हैं. ऐसे में सोयाबीन महिलाओं में एस्ट्रोजन का स्तर बढ़ाने का काम करती है.

(7) पेट साफ़ करने में– सोयाबीन के फायदे आपको पेट से सम्बंधित समस्याओं में भी मिलते हैं. सोयाबीन फाइबर से भरपूर होती हैं. इसे भिगोकर खाने से शरीर में फाइबर की कमी दूर होती है और आपके पाचन तंत्र को शक्ति मिलती है. यह आपका पेट पूरी तरह से साफ़ करने में आपकी मदद करती है. हर रोज शाम को 50 ग्राम सोयाबीन भिगोकर रखें और सुबह उठकर खाएं.

(8) महिलाओं में दूध बढ़ाने में– जो महिलाओं अपने बच्चों को दूध पिलाती हैं, लेकिन दूध कम होने की समस्या से परेशान हैं. उन्हें सोयाबीन का सेवन जरूर करना चाहिए, सोयाबीन में मौजूद पौषक तत्व महिलाओं में दूध की मात्रा बढाते हैं. लेकिन इसके लिए आपको एक निश्चित समय के लिए इसे रोज प्रयोग में लाना होगा.

(9) वजन कम करने में– हालांकि सोयाबीन कमजोर लोगों का वजन बढाकर उन्हें मजबूत बनाने का काम करती है. लेकिन अगर इसका प्रयोग एक ख़ास तरीके से किया जाए तो ये आपका वजन कम करने में भी आपकी सहायता कर सकती है. सोयाबीन में पाया जाने वाला प्रोटीन और फाइबर आपकी भूख को कम करता है जिससे आपको वजन कम करने में आसानी होती है.

ये भी पढ़ें-

केला खाने के 10 जबर्दस्त फायदे

ज्यादा मीठा खाने के खतरनाक नुकसान

तरबूज खाने के फायदे और नुकसान

दूध वाली चाय पीने के नुकसान खतरनाक हैं

(10) हड्डियाँ मजबूत बनाने में– एक उम्र के बाद हमारी हड्डियाँ कमजोर होने लगती हैं. जिससे हमें कमजोरी महसूस होना शुरू हो जाती है. लेकिन अगर आप हफ्ते में 3 दिन भी सोयाबीन का प्रयोग करेंगे तो इसमें मौजूद कैल्शियम, मैग्निसियम, फोस्फोरस, आयरन, जिंक और कॉपर आपकी हड्डियाँ मजबूत बनाने में आपकी मदद करेंगे.

तो ये थे कुछ बेहतरीन सोयाबीन के फायदे जो की अच्छी सेहत के लिए बहुत जरूरी हैं. लेकिन सोयाबीन का इस्तेमाल करने वाले लोगों के मन में इसके नुकसानों के बारे में भी कशमकश चलती रहती है. ये सच है की यदि इसका इस्तेमाल सही तरीके से ना किया जाए या बहुत ज्यादा मात्रा में किया जाए तो सोयाबीन खाने के नुकसान भी होते हैं. चलिए जानते हैं क्या हैं वो साइड इफेक्ट्स.

सोयाबीन के नुकसान Side Effects Of Soyabean In Hindi

सोयाबीन में एस्ट्रोजेनिक गुण पाए जाते हैं, ज्यादा मात्रा में इसका सेवन करने से हमारे शरीर में एस्ट्रोजेन का स्तर बढ़ जाता है जिससे पुरुषों में कई समस्याएँ हो सकती है. जैसे यौन इच्छा में कमी, तनाव में कमी और स्पर्म क्वांटिटी का घट जाना. इसके अलावा इसका सही तरीके से सेवन ना करने पर टेस्टोस्टेरोन हार्मोन हमारे शरीर में कम होना शुरू हो जाता है.

इससे पुरुषों की छाती में बदलाव देखने को मिलता है और उनके निप्पल्स में उभार आ सकता है, जिसे gynecomastia कहते हैं. अत: आप लोगों से हमारा सुझाव है की सोयाबीन का इस्तेमाल जरूर करें लेकिन एक हद से ज्यादा नहीं. इसके अलावा सोयाबीन के कोई नुकसान देखने को नहीं मिले हैं.

तो ये थी हमारी पोस्ट सोयाबीन के फायदे यानी Soyabean Benefits In Hindi. पोस्ट आपको कैसी लगी comment करके जरूर बताएं. नए नए हेल्थ टिप्स पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज को Like करलें और हमें सब्सक्राइब करले. कुछ भी पूछने के लिए आप comment box में कमेंट कर सकते हैं, धन्यवाद.

Leave a Reply